सुनंदा केसः थरूर से फिर होगी पूछताछ, जानें अमर सिंह से पूछे गए कौन से सवाल

सुनंदा केसः थरूर से फिर होगी पूछताछ, जानें अमर सिंह से पूछे गए कौन से सवाल

नई दिल्ली. पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेसी नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की हत्या के...

केजरीवाल बोले- किरण को हराने के लिए गोयल, उपाध्याय, हर्षवर्धन रच रहे साजिश

केजरीवाल बोले- किरण को हराने के लिए गोयल, उपाध्याय, हर्षवर्धन रच रहे साजिश

नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार कर रहे आप आदमी पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल ने...

जापानी बंधक के बदले रिहा की जाएगी आतंकी साजिदा मुबारक

जापानी बंधक के बदले रिहा की जाएगी आतंकी साजिदा मुबारक

अम्मान। जॉर्डन की जेल में बंद इराकी आतंकी साजिदा मुबारक अतरौस अल-रिशावी को रिहा किया जाएगा। ताजा...

पाकिस्तान ने फिर की सीमा पर 12 घंटे गोलीबारी

पाकिस्तान ने फिर की सीमा पर 12 घंटे गोलीबारी

श्रीनगर। पाकिस्तानी फौज ने जम्मू-कश्मीर में अपनी हरकतें जारी रखते हुए शुक्रवार को भी संघर्षविराम...

  • सुनंदा केसः थरूर से फिर होगी पूछताछ, जानें अमर सिंह से पूछे गए कौन से सवाल

    सुनंदा केसः थरूर से फिर होगी पूछताछ, जानें अमर सिंह से पूछे गए कौन से सवाल

    Wednesday, 28 January 2015 15:06
  • केजरीवाल बोले- किरण को हराने के लिए गोयल, उपाध्याय, हर्षवर्धन रच रहे साजिश

    केजरीवाल बोले- किरण को हराने के लिए गोयल, उपाध्याय, हर्षवर्धन रच रहे साजिश

    Wednesday, 28 January 2015 15:09
  • जापानी बंधक के बदले रिहा की जाएगी आतंकी साजिदा मुबारक

    जापानी बंधक के बदले रिहा की जाएगी आतंकी साजिदा मुबारक

    Wednesday, 28 January 2015 15:22
  • पाकिस्तान ने फिर की सीमा पर 12 घंटे गोलीबारी

    पाकिस्तान ने फिर की सीमा पर 12 घंटे गोलीबारी

    Friday, 07 August 2015 18:09
  • श्रीनगर में लहराए लश्कर व पाक के झंडे, पोस्टर

    श्रीनगर में लहराए लश्कर व पाक के झंडे, पोस्टर

    Friday, 21 August 2015 16:45

राज रंजना

पुलिस प्लेटफार्म

लखनऊ पुलिस का नया कारनामा, मृतक को बना दिया कच्चा शराब बनाने का आरोपी

लखनऊ. मलीहाबाद शराब त्रासदी के बाद हरक में आई पुलिस का नया कारनामा सामने आया है। पारा में कच्ची शराब बनाने के आरोप में पुलिस ने तीन साल पहले मृतक को आरोपी बनाकर सरगर्मी से तलाश कर रही है। पुलिस का आरोप है कि मृतक जहरीली शराब बनाने के काम में लगा हुआ है।  मिली जानकारी के अनुसार, पारा थानांतर्गत आने वाले सरौसा सदर निवासी राजू पुत्र जगनू की तीन साल पहले मौत हो गई है। पारा पुलिस राजू के नाम पर भी मुकदमा दर्ज कर लिया और उसकी सरगर्मी से तलाश कर रही है। परिजनों की माने तो उसकी खोज बीन में कई बार पारा पुलिस दरवाजे तक आ चुकी है और उसे हाजिर करने का दबाव बना रही है। रिकॉर्ड में था शराब कारोबारी   पुलिस के रिकॉर्ड में वह कच्ची शराब का कारोबारी था।

विविध रंग

इनवेस्टर्स मीट: नोएडा में लगेगा सैमसंग प्लांट, पांच हजार करोड़ के एमओयू साइन

लखनऊ. मोबाइल उद्योग को बढ़ावा देने के लिए यूपी सरकार ने एक नई पहल की है। इसके तहत मंगलवार को ई-उत्तर प्रदेश इनवेस्टर्स मीट का आयोजन किया गया। इसमें देशभर से आए उद्यमियों का जमावड़ा लगा। सीएम अखिलेश यादव ने इनवेस्टर्स मीट की अध्यक्षता की। इस दौरान उन्होंने इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन, लावा स्पाइस और इओएन के साथ कई अहम योजनाओं को लेकर करीब पांच हजार करोड़ रुपए के मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एमओयू) पर साइन किए। इससे कुल 50 हजार युवाओं को रोजगार मिलेगा। मीट में इसके अलावा नोएडा में सैमसंग मोबाइल प्लांट और गाजियाबाद में आईटी पार्क बनाने पर भी फैसला लिया गया। इन्वेस्टर्स मीट में इलेक्ट्रॉनिक इंडस्ट्री एसोसिएशन ऑफ इंडिया के जनरल सेक्रेटरी राजू गोयल, इंडिया इलेक्ट्रॉनिक्स एंड सेमी कंडक्टर के चेयरमैन अशोक चंडक, इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन के नेशनल प्रेसिडेंट पंकज मोहिंदू, स्पाइस ग्रुप के दिलीप मोदी, एम्बेसी ऑफ रिपब्लिक कोरिया

विज्ञापन

पूरी रात सुनवाई का सुप्रीमकोर्ट ने रचा नया इतिहास

नई दिल्ली। मुंबई सीरियल ब्लास्ट के दोषी याकूब मेमन को आज भोर नागपुर केन्द्रीय कारागार में फांसी दे दी गई। हालांकि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा याकूब की दया याचिका खारिज किए जाने के बाद वकीलों ने उसे बचाने के लिए देर रात नया दांव खेलना शुरू कर दिया था। रात करीब 10 बजकर 45मिनट पर  प्रशांत भूषण सहित कुछ अन्य वकील फांसी पर रोक लगाने के लिए मुख्य न्यायाधीश एचएल दत्तू के घर पहुंचे। मामले के मद्देनजर देर रात सुप्रीमकोर्ट फिर खुला और एकबार फिर से याकूब की याचिका पर सुनवाई शुरू हुई।

करीब तीन घंटे बाद कोर्ट ने याचिका को खारिज कर दिया। इस तरह पूरी रात सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होने के बाद आखिरकार याकूब को फांसी देने का रास्ता साफ हो गया। सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले को आधार बनाते हुए इन वकीलों ने कहा कि दया याचिका खारिज होने के कम से कम 14 दिन बाद ही किसी को फांसी दी जा सकती है। इसलिए याकूब की फांसी पर रोक लगाई जाए। सुप्रीमकोर्ट के वकीलों ने याकूब की फांसी पर 14 दिन की रोक लगाने की मांग लेकर रात ढाई बजे सुप्रीम कोर्ट खुलवाया।

कोर्ट नंबर चार में तीन जजों जस्टिस दीपक मिश्र, जेए राय और जेपी पंत की बेंच ने मामले की सुनवाई की। याकूब की ओर से वकील आनंद ग्रोवर ने छह दलीलें दी। इस दौरान अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने सरकार का पक्ष रखा। करीब एक घंटे तक याकूब मामले पर बहस हुई। इसके बाद जस्टिस दीपक मिश्र ने याकूब की फांसी को बरकरार रखा। याकूब के वकीलों का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला गलत है।

ऐसी सुनवाई देष के इतिहास में बेजोड़

-रात 11 बजे प्रधान न्यायाधीश के घर प्रशांत भूषण, आनंद ग्रोवर समेत कई वकील पहुंचे।

-रात 12 बजे सुप्रीम कोर्ट के रजिस्ट्रार पहुंचे सीजेआई के बंगले पर।

-रात 1 बजे खबर आई कि तीन जज सीजेआई के बंगले पर ही सुनेंगे अर्जी।

-रात 2 बजे जस्टिस दीपक मिश्र के घर सुनवाई की चर्चा।

रात 2 बजकर 10 मिनट पर तय हुआ कि सुप्रीम कोर्ट में ही 2 बजकर 30 मिनट से होगी सुनवाई।

रात 3 बजकर 20 मिनट पर कोर्ट नंबर 4 पहुंचे दीपक मिश्र, अमिताव रॉय व प्रफुल्ल पंत। सुनवाई शुरू।

सुबह 4 बजकर 57 मिनट पर आया अंतिम फैसला।

याकूब के वकीलों की दलील

-याकूब को 14 दिन का समय मिलना चाहिए।

-याकूब के पास दया याचिका पर अपील का अधिकार

-दया याचिका खारिज करने की कॉपी नहीं मिली

-2014 में दया याचिका याकूब के भाई ने दाखिल की थी।

अटॉर्नी जनरल का जवाब

-बार-बार याचिका से सिस्टम कैसे काम करेगा?

-इस तरह मौत के वारंट की कभी तामील नहीं हो सकेगी

-दया याचिका खारिज चुनौती न देने की बात कही

-याकूब की सहमति से दाखिल की गई थी दया याचिका।

 काम आयी कोई चालाकी

इससे पहले बुधवार को समय का पहिया तेजी से घूमा। पहले तो सुप्रीम कोर्ट ने मौत का फरमान रद करने की उसकी मांग खारिज कर दी। इसके बाद महाराष्ट्र के राज्यपाल ने भी उसकी दया याचिका ठुकरा दी। मौत को टालने का अंतिम प्रयास करते हुए उसने राष्ट्रपति को नई दया याचिका भेजी। इस पर प्रणब मुखर्जी ने गृह मंत्रालय से राय मांगी। गृह मंत्रालय की सिफारिश पर राष्ट्रपति ने देर रात दया याचिका खारिज कर दी। वह इससे पहले भी उसकी दया याचिका खारिज कर चुके थे।

 

Overall Rating (0)

0 out of 5 stars

People in this conversation

Load Previous Comments