सुनंदा केसः थरूर से फिर होगी पूछताछ, जानें अमर सिंह से पूछे गए कौन से सवाल

सुनंदा केसः थरूर से फिर होगी पूछताछ, जानें अमर सिंह से पूछे गए कौन से सवाल

नई दिल्ली. पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेसी नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की हत्या के...

केजरीवाल बोले- किरण को हराने के लिए गोयल, उपाध्याय, हर्षवर्धन रच रहे साजिश

केजरीवाल बोले- किरण को हराने के लिए गोयल, उपाध्याय, हर्षवर्धन रच रहे साजिश

नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार कर रहे आप आदमी पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल ने...

जापानी बंधक के बदले रिहा की जाएगी आतंकी साजिदा मुबारक

जापानी बंधक के बदले रिहा की जाएगी आतंकी साजिदा मुबारक

अम्मान। जॉर्डन की जेल में बंद इराकी आतंकी साजिदा मुबारक अतरौस अल-रिशावी को रिहा किया जाएगा। ताजा...

पाकिस्तान ने फिर की सीमा पर 12 घंटे गोलीबारी

पाकिस्तान ने फिर की सीमा पर 12 घंटे गोलीबारी

श्रीनगर। पाकिस्तानी फौज ने जम्मू-कश्मीर में अपनी हरकतें जारी रखते हुए शुक्रवार को भी संघर्षविराम...

  • सुनंदा केसः थरूर से फिर होगी पूछताछ, जानें अमर सिंह से पूछे गए कौन से सवाल

    सुनंदा केसः थरूर से फिर होगी पूछताछ, जानें अमर सिंह से पूछे गए कौन से सवाल

    Wednesday, 28 January 2015 15:06
  • केजरीवाल बोले- किरण को हराने के लिए गोयल, उपाध्याय, हर्षवर्धन रच रहे साजिश

    केजरीवाल बोले- किरण को हराने के लिए गोयल, उपाध्याय, हर्षवर्धन रच रहे साजिश

    Wednesday, 28 January 2015 15:09
  • जापानी बंधक के बदले रिहा की जाएगी आतंकी साजिदा मुबारक

    जापानी बंधक के बदले रिहा की जाएगी आतंकी साजिदा मुबारक

    Wednesday, 28 January 2015 15:22
  • पाकिस्तान ने फिर की सीमा पर 12 घंटे गोलीबारी

    पाकिस्तान ने फिर की सीमा पर 12 घंटे गोलीबारी

    Friday, 07 August 2015 18:09
  • श्रीनगर में लहराए लश्कर व पाक के झंडे, पोस्टर

    श्रीनगर में लहराए लश्कर व पाक के झंडे, पोस्टर

    Friday, 21 August 2015 16:45

राज रंजना

पुलिस प्लेटफार्म

लखनऊ पुलिस का नया कारनामा, मृतक को बना दिया कच्चा शराब बनाने का आरोपी

लखनऊ. मलीहाबाद शराब त्रासदी के बाद हरक में आई पुलिस का नया कारनामा सामने आया है। पारा में कच्ची शराब बनाने के आरोप में पुलिस ने तीन साल पहले मृतक को आरोपी बनाकर सरगर्मी से तलाश कर रही है। पुलिस का आरोप है कि मृतक जहरीली शराब बनाने के काम में लगा हुआ है।  मिली जानकारी के अनुसार, पारा थानांतर्गत आने वाले सरौसा सदर निवासी राजू पुत्र जगनू की तीन साल पहले मौत हो गई है। पारा पुलिस राजू के नाम पर भी मुकदमा दर्ज कर लिया और उसकी सरगर्मी से तलाश कर रही है। परिजनों की माने तो उसकी खोज बीन में कई बार पारा पुलिस दरवाजे तक आ चुकी है और उसे हाजिर करने का दबाव बना रही है। रिकॉर्ड में था शराब कारोबारी   पुलिस के रिकॉर्ड में वह कच्ची शराब का कारोबारी था।

विविध रंग

इनवेस्टर्स मीट: नोएडा में लगेगा सैमसंग प्लांट, पांच हजार करोड़ के एमओयू साइन

लखनऊ. मोबाइल उद्योग को बढ़ावा देने के लिए यूपी सरकार ने एक नई पहल की है। इसके तहत मंगलवार को ई-उत्तर प्रदेश इनवेस्टर्स मीट का आयोजन किया गया। इसमें देशभर से आए उद्यमियों का जमावड़ा लगा। सीएम अखिलेश यादव ने इनवेस्टर्स मीट की अध्यक्षता की। इस दौरान उन्होंने इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन, लावा स्पाइस और इओएन के साथ कई अहम योजनाओं को लेकर करीब पांच हजार करोड़ रुपए के मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एमओयू) पर साइन किए। इससे कुल 50 हजार युवाओं को रोजगार मिलेगा। मीट में इसके अलावा नोएडा में सैमसंग मोबाइल प्लांट और गाजियाबाद में आईटी पार्क बनाने पर भी फैसला लिया गया। इन्वेस्टर्स मीट में इलेक्ट्रॉनिक इंडस्ट्री एसोसिएशन ऑफ इंडिया के जनरल सेक्रेटरी राजू गोयल, इंडिया इलेक्ट्रॉनिक्स एंड सेमी कंडक्टर के चेयरमैन अशोक चंडक, इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन के नेशनल प्रेसिडेंट पंकज मोहिंदू, स्पाइस ग्रुप के दिलीप मोदी, एम्बेसी ऑफ रिपब्लिक कोरिया

विज्ञापन

-दिल्ली, मुंबई से लेकर नेपाल और अरब देशों तक जमा रहे धाक

-माफिया घरानों से सुपारी लेकर पलक झपकते कर रहे हैं कत्ल

आरएसएस सोलंकी

वाराणसी। ‘अब  आने वाला अहद हमें ये बतायेगा, बच्चा खिलौने खेलेगा या बम बनायेगा’ और ‘मम्मी मैं तो सीखूंगा गोली चलाना’ ये दोनों बातें आज अपनी संपूर्ण विद्रूपता के साथ समाज में आकार लेने लगी हैं। इसका सबसे बड़ा उदाहरण है पूर्वी उत्तर प्रदेश और उसमें खासकर वाराणसी तथा गाजीपुर जिले जहां आजकल शूटरों के कारखाने और ट्रेनिंग सेण्टर चलने लगे हैं। वैसे तो सूबे के इस भाग में ये प्रशिक्षण केन्द्र पिछले कम से कम ढाई दशक से चलते रहे हैं लेकिन वर्तमान में इनका रूप और कार्यशैली ज्यादा वीभत्स हो गयी है। इन कारखानों के माई-बाप पूर्वांचल के माफिया हैं जो इन्हें हमेशा अन्न-पानी देकर पालते-पोसते रहे हैं।

इन ट्रेनिंग सेण्टरों में बेरोक-टोक ढंग से प्रशिक्षण देकर शूटरों की नई ब्रिगेड तैयार की जा रही है। ये शूटर बड़े माफिया गिरोहों के लिए ज्यादातर ‘सुपारी किलर’ के रूप में काम करते हैं। हत्या इनका सबसे बड़ा बिजनेस है। माफिया सरगना ज्यादातर अपने इन मॉडयूल का इस्तेमाल अपने विरोधियों को चित करने के लिए करते हैं। कभी-कभार इनके जरिए डकैती और लूट की बड़ी घटनाओं को भी अंजाम दिलाया जाता है जिसमें सरगनाओं को अपना हिस्सा मिलता है।  

वाराणसी की सरकारी खुफिया एजेंसियों की इकाइयों के मुताबिक पूर्वांचल के शूटर देश के दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई जैसे महानगरों से लेकर नेपाल व अरब देशों तक अपनी जडंें जमा चुके हैं। पिछले कुछ दिनों में प्रदेश के इस भाग में तेजी से बढ़ रही आपराधिक घटनाओं को देखते हुए स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) और क्राइम ब्रांच को इस तरह के शूटरों और उनके प्रशिक्षण केन्द्रों के प्रति खबरदार कर दिया है। जरायम जगत में अरसे से वाराणसी, गाजीपुर, आजमगढ़“, जौनपुर, गोरखपुर, देवरिया आदि जिलों के शूटरों की खासी पहचान बन चुकी है। पहले भी यहां के शूटरों ने प्रदेश और देश में ही नहीं बल्कि विदेशों तक में सुपारी लेकर हत्याएं की हैं। पुरानी घटनाओं की परतें उघारें तो पता चलेगा कि मुंबई के जेजे अस्पताल में सनसनीखेज हत्या कराने के लिए दाऊद इब्राहिम ने पूर्वांचल के ही दो शूटरों को सुपारी दी थी और यहां के कुख्यात माफिया सरगना बृजेष सिंह ने इसे पुलिस की वर्दी में अंजाम दिया था। फिल्म अभिनेत्री मनीषा कोइराला के सचिव के कत्ल में चंदौली, गाजीपुर और वाराणसी के शूटरों ने ही केन्द्रीय भूमिका निभाई थी। पिछले कुछ दिनों के दौरान दिल्ली, कोलकाता, कानपुर, मुंबई और नेपाल में हुई कई वारदातों में यहीं के शूटरों के नाम उभरकर सामने आए हैं। 

खुफिया एजेंसियों को मिली ताजा जानकारी के अनुसार वाराणसी के 50 हजार के इनामी तीन बदमाश अरसे से नेपाल में डेरा जमाये हुए हैं जबकि बलिया का मूल निवासी दो लाख का इनामी एक बदमाश अपना नाम बदलकर विदेश में शरण ले चुका है। पूर्वांचल का ही एक शातिर बदमाश अपना नाम बदलकर अरब देश में हत्या की वारदात को अंजाम दे चुका है। इस समय वह पूर्वांचल की ही एक जेल में बंद है। जेल में कैद बनारस के ही लल्लापुरा मुहल्ले का अल्ताफ नामक युवा अपराधी कोलकाता स्थित अमेरिकन वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हमले का आरोपित है। उधर वाराणसी के ही केन्द्रीय कारागार में बंद एक माफिया बैंकाक में वारदात कर चुका है। खुफिया विभाग के लोगों का कहना है कि पूर्वांचल के ही एक बदमाश की दिल्ली के एक कारोबारी की हत्या की सुपारी लेने की बात सर्विलांस पर सुनी गई थी।

---------------------------------

खेलने खाने की उम्र में ही बन गये हत्यारे

दर्जनों ऐसे बदमाश पूर्वांचल में मौजूद हैं जो खेलने खाने की उम्र में ही बम और गोलियों का खतरनाक खेल खेलने लगे हैं। बनारस के किशोर संप्रेक्षण गृह में 16 ऐसे किशोर बंद हैं जो हत्या की कई वारदातों में शामिल रहे हैं। नए शूटरों और माफिया गिरोहों के बीच दांतकाटी रोटी कपोलकल्पना में नहीं बल्कि हकीकत में रूप में सामने आ चुकी है। नवोदित बदमाशों के जूते-चप्पल से लेकर खाने-खर्चे तक का सारा इंतजाम माफिया सरगनाओं की बदौलत होता है। कुछ माफिया सरगना तो उन्हें हर माह बकायदा तनख्वाह पहुंचा रहे हैं। यह काम वे जेल में बंद होने के बावजूद कर रहे हैं। ज्यादातर माफिया सरगनाओं द्वारा अपराधियों के कारखाने चलाये जा रहे हैं। गाजीपुर और बनारस में कम से कम चार बड़े अपराधी अपने अलग-अलग गुप्त ठिकानों पर बकायदा इन लड़कों को टिकाकर इनके लिए मेस और प्रषिक्षण केन्द्र तक चलाते हैं। पढ़-लिखकर नौकरी न पा सकने वाले अनेक युवक इस पेषे से जुड़ चुके हैं। इन्हे अपराधी बनाने के लिए इनके लालन-पालन में कोई कमी नहीं छोड़ी जाती। दारू और मुर्गे का भंडारा चलाया जाता है। नौसिखुओं को एक से एक कीमती कपड़े पहनाये जाते हैं। दस-दस हजार के जूते पैरों में डाल दिये जाते हैं। उन्हें जरायम जगत की रईसी की चकाचौंध दिखाई जाती है। लक्जरी कारों में जगह-जगह की सैर करार्इ्र जाती है। गोली चलाने और असलहे छिपाने की कला सिखाई जाती है। अंततः इन्हें ऐसे अंधे कुएं में धकेल दिया जाता है जहां से न तो ये वापस लौटने का साहस जुटा पाते हैं और न ही लौटते हैं।

------------------------------------

दो सौ शूटरों की सूची पुलिस के पास उपलब्ध

पुलिस ने संत कबीरनगर, महाराजगंज, वाराणसी, गाजीपुर, आजमगढ़, जौनपुर, चंदौली, मिर्जापुर, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, बस्ती, मऊ आदि जिलों के कम से कम दो सौ शूटरों की सूची तैयार कर ली है। इनमें इंद्रदेव ंिसंह बीकेडी, विश्वास शर्मा उर्फ नेपाली, रोहित उर्फ सनी ंिसंह, हनी ंिसंह, राजेश चौधरी, सुरेश कुमार ंिसंह, गौरव ंिसंह, जावेद खान, अताउर्रहमान, शहाबुद्दीन, मनीष ंिसंह, रमेश ंिसंह काका, नामवर यादव, मोहम्मद शमीम, साकिब, अजीम, कौशल चौबे, वीरेंद्र जायसवाल, सोनू ंिसंह, अमित जायसवाल, अभिनव जायसवाल भी शामिल हैं। ---------------------------------------------------------------------

                                                                                                                                                      एन-11/36-2 रानीपुर

                                                                                                                                                       महमूरगंज वाराणसी

                                                                                                                                                   मोबाइल-9415270330

 

Overall Rating (0)

0 out of 5 stars

Leave your comments

Post comment as a guest

0
  • No comments found